Loading Posts...

नीरज शेखर के सपा छोड़ने के पीछे था ये बड़ा राज, बीजेपी कर रहा उसी का इस्तेेमाल

नवाबस्ट्रीट न्यूज़ डेस्क: लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद अब समाजवादी पार्टी को एक और बड़ा झटका लगा है. सपा के प्रमुख क्षत्रिय चेहरे और पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के बेटे नीरज शेखर ने राज्यसभा के साथ-साथ सपा छोड़कर मंगलवार को जेपी नड्डा और भूपेन्द्र यादव की मौजूदगी में बीजेपी ज्वाइन कर ली है. राजनीतिक जानकार इसे अखिलेश यादव के लिए एक बड़े झटके के तौर पर देख रहे हैं.

आपको बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के बेटे नीरज और सपा प्रमुख अखिलेश यादव के बीच हालिया लोकसभा चुनाव के दौरान राजनीतिक खटास पैदा हो गई थी. राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू ने सोमवार को नीरज शेखर का इस्तीफा मंजूर कर लिया गया. सदन में उनका कार्यकाल नवंबर 2020 तक था.

दरअसल, लोकसभा चुनाव के दौरान नीरज शेखर बलिया संसदीय सीट से चुनाव लड़ना चाहते थे, इसके लिए उन्होंने टिकट की मांग की थी. पार्टी नेतृत्व ने उन्हें आश्वस्त भी किया था, लेकिन आखिरी वक्त तक भरोसा देकर अचानक उनकी जगह सदानंद पण्डेय को बलिया से उम्मीदवार बनाकर चुनाव मैदान में उतार दिया गया. इसके बाद से उनकी नाराजगी बढ़ती गई.

चंद्रशेखर के निधन के बाद नीरज शेखर ने पहली बार बलिया से ही चुनाव लड़ा था. साल 2007 में बलिया संसदीय सीट पर हुए उपचुनाव में भारी मतों के अंतर से जीतकर नीरज शेखर संसद पहुंचे थे. चंद्रशेखर की विरासत संभाल रहे नीरज ने अपने राजनीतिक तेवरों के चलते ही 2009 के आम चुनाव में भी बाजी मारी और 2014 तक संसद में रहे.

0
HeartHeart
0
HahaHaha
0
LoveLove
0
WowWow
0
YayYay
0
SadSad
0
PoopPoop
0
AngryAngry
Voted Thanks!
Loading Posts...