Loading Posts...

सच्चे मन से छूएं महिलाओं के इस अंग को, समाज में बढ़ेगा मान-सम्मान

नवाबस्ट्रीट न्यूज़ डेस्क: हिंदू धर्म में स्त्रियों को देवी का दर्जा दिया जाता है। देवी का दर्जा प्राप्त महिलाओं के सम्मान की बात हमेशा समाज के लोगों के द्वारा की जाती है। ऐसा कहा जाता है कि जो कोई व्यक्ति सच्चे मन से स्त्री का सम्मान करता है उस व्यक्ति को अपने जीवन में कभी भी किसी भी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता। किसी भी तरह की परेशानी का सामना ना करने के साथ ही उस व्यक्ति को अपने जीवन में हमेशा सफलता भी मिलती है। पर क्या आपको यह बात मालूम है कि अगर आप स्त्रियों के शरीर के एक खास अंग को छूते हैं तो आपको महापुण्य मिलता है और आपकी सोई हुई किस्मत जाग उठती है। अगर आपको नहीं पता तो चलिए बताते हैं आपको की स्त्री के उस अंग के बारे में जिसे छूने से किसी भी व्यक्ति की सोई हुई किस्मत जाग सकती हैं।

हर एक व्यक्ति के जीवन में स्त्रियाँ उनके साथ कई स्वरुप में रहा करती है। एक स्त्री ही किसी व्यक्ति की माँ होती है तो किसी की बहन और किसी और बहू। अलग अलग स्वरुप में स्त्रियाँ व्यक्तियों के जीवन में खुशियाँ लाने का काम किया करती है। स्त्रियों के बगैर पुरुषों का इस धरती पर अस्तित्व भी असंभव है। एक स्त्री ही पुरुष की हर एक ख़ुशी और दुःख में उनका साथ निभाती है।

इसके साथ ही साथ एक स्त्री को उसके जीवन में बहुत सारे दर्द भी सहने पड़ते है। जीवन में आने वाले हर एक दर्द को आराम से सह लेने वाली एक स्त्री विपरीत से विपरीत परिस्थितियों को भी हँसी ख़ुशी झेल लेती है। कठिन से कठिन परिस्थितियों में भी हमेशा अपने चेहरों पर मुस्कान बनाये रखने वाली लड़कियाँ अपने बच्चो को भी अच्छे अच्छे संस्कार देने का भी काम करती है। इसके अलावा एक स्त्री अपने वंश को आगे बढ़ने में भी अपनी अहम भूमिका निभाती है।

एक साथ कई कार्यो को करने वाली स्त्रियों के पैरों में बहुत बड़ा राज छिपा होता है। ऐसा कहा जाता है कि स्त्रियों के पैर छूने से व्यक्ति को अपने सारे जन्मों का पुण्य भी मिलता है। इसके साथ ही साथ उस व्यक्ति को अपने जीवन ने कामयाबी भी बहुत आसानी से मिल जाती है। स्त्रियों के पैर छूने से मिलने वाले आशीर्वाद की वजह से व्यक्ति के जीवन से निराशा का अंत हो जाता है। निराशा का अंत होने के कारण व्यक्ति के अंदर सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होने लगता है।

0
HeartHeart
0
HahaHaha
0
LoveLove
0
WowWow
0
YayYay
0
SadSad
0
PoopPoop
0
AngryAngry
Voted Thanks!
Loading Posts...