Loading Posts...

पास होने के लिए स्टूडेंट्स ने ऐसे भरी कॉपियां, हंस-हंस कर टीचर्स का हुआ बुरा हाल

यूँ तो किसी भी परीक्षा में पास होने के लिए इंसान का मेहनत करना और पढ़ाई करना बेहद जरुरी है. मगर आज कल के समय में कुछ स्टूडेंट्स के लिए पढ़ाई करना उतना ही मुश्किल हो गया है, जितना कि मोबाइल को खुद से अलग करना मुश्किल है. यानि अगर हम सीधे शब्दों में कहे तो आज के समय में युवाओ को किताबो से ज्यादा अपने मोबाइल और अपने स्टाइल से प्यार है. हालांकि कुछ स्टूडेंट्स ऐसे भी है, जो मोबाइल का इस्तेमाल पढ़ाई करने के लिए भी करते है और परीक्षा में पास होने के लिए पूरी मेहनत भी करते है. मगर जो स्टूडेंट्स साल भर पढ़ाई नहीं करते, उनका परीक्षा में क्या हाल होता है, ये आज हम आपको दिखाएंगे पर हमें यकीन है कि आज जो तस्वीरें हम आपको दिखाएंगे उन्हें देखने के बाद आप अपनी हंसी नहीं रोक पाएंगे.


सबसे पहले तो हम आपको ये बता दे कि जिन स्टूडेंट्स को खुद के पास होने की उम्मीद नहीं होती, वो स्टूडेंट्स परीक्षा के दौरान आंसर शीट में नोट तक छोड़ देते है या फिर अपने माता पिता की तबियत खराब होने का बहाना लिख देते है, ताकि एग्जामिनर उसे पढ़ कर उन्हें पास कर दे. अब जाहिर सी बात है कि मेहनत न करने वाले स्टूडेंट्स को परीक्षा में पास होने के लिए कोई न कोई तो जुगाड़ लगाना ही पड़ता है. यानि अगर हम सीधे शब्दों में कहे तो ऐसे स्टूडेंट्स जुगाड़ लगाने में तो काफी मेहनत करते है, लेकिन पढ़ाई के मामले में मेहनत करना भूल ही जाते है. बरहलाल आपको जान कर हैरानी होगी कि आज कल कुछ स्टूडेंट्स तो इससे भी कही ज्यादा आगे बढ़ चुके है.

जी हां आपकी जानकारी के लिए बता दे कि आज कल तो स्टूडेंट्स परीक्षा में पास होने के लिए एग्जामिनर को पार्टी देने का ऑफर तक दे रहे है. अब भला आप ही बताईये, कि इतना अच्छा ऑफर कोई ठुकरा सकता है. हालांकि हम यहाँ एग्जामिनर की बुराई नहीं कर रहे, लेकिन कुछ एग्जामिनर ऐसे भी होते है, जो स्टूडेंट्स के इन ऑफर्स को मान लेते है. गौरतलब है कि हरियाणा बोर्ड की आंसर शीट में एक छात्रा ने कुछ ऐसी ही बात लिखी है. बता दे कि इस छात्रा का जवाब पढ़ कर आप भी अपनी हंसी नहीं रोक पाएंगे. दरअसल कॉपी चेक करने वाले एक टीचर ने बताया कि दसवीं की मार्किंग के दौरान एक ऐसी कॉपी भी सामने आई, जिसमे यह लिखा था कि सर प्लीज मुझे माफ़ कर दीजिये, क्यूकि मेरे पेरेंट्स मुझसे कहते है कि मैं फेल हो जाउंगी. ऐसे में मुझ पर काफी दबाव है. इसलिए अगर आप मुझे पास कर देंगे तो आपकी बड़ी कृपा होगी.

इसके साथ ही एक टीचर ने बताया कि एक छात्र ने यहाँ तक लिखा था कि अगर मैं उसे पास कर दूंगा तो वह मुझे पार्टी देगा. केवल इतना ही नहीं इसके इलावा वह उन्हें छह सौ रूपये भी देगा. वही खांडसा स्थित सरकारी स्कूल के एक साइंस टीचर ने बताया कि एक कॉपी में तो ग़ालिब साहब की शायरी तक लिखी हुई थी. इसके साथ ही यह भी लिखा था कि कृपया मुझे माफ़ कर दीजिये. इसके इलावा एक छात्र ने तो सभी तीस सवालों के जवाब में केवल शायरी ही लिख रखी थी. हालांकि टीचर का कहना है कि इसके लिए छात्र को जीरो नंबर ही दिए गए.

0
HeartHeart
0
HahaHaha
0
LoveLove
0
WowWow
0
YayYay
0
SadSad
0
PoopPoop
0
AngryAngry
Voted Thanks!
Loading Posts...